हमसफ़र

हमसफ़र

मिले थे हम किसी मोड़ पर..!!!
बात हुई हस्ते हस्ते…!!
साथ चल रहे थे कुछ दुर हस्ते हस्ते..!!
और जब आई एक ओर मोड़ तो को मुड़ गए हस्ते हस्ते…!!
हमने किया उनका इंतजार हस्ते हस्ते..!!
उन्होंने कहा था न जुदा होंगे हस्ते हस्ते..!!!
आज भी उनकी याद आती है हस्ते हस्ते…!!
गमरागी हो गया हूं मै हस्ते हस्ते…!!
मिली जब को कुछ सालो बाद हस्ते हस्ते…!!!
फिर हमारी बात हुई हस्ते हस्ते…!!
उसने कहा हम एक नहीं हो सकते हस्ते हस्ते…!!!
हम फिर जुदा हो गए हस्ते हस्ट…!!
और मै तन्हा हो गया हस्ते हस्ते…!!

BY: mr_anshu_agrawal

ऐ हमसफर माफ करना

Follow us on Facebook

Authors

Leave a Reply

%d bloggers like this: