विचार

विचार

हर सपना सच कर जाओगे, बस मन में एक विचार बना लो।
जो चाहोगे पाओगे, बस मन में एक विचार बना लो।

कर भरोसा कर्मों का जो आगे बढ़ता जाता है,
मील का पत्थर धीरे-धीरे विस्तृत होता जाता है,
ना देना तुम कष्ट किसी को सभी की तुम पीड़ा हरना,
हर दिल खुश हो जाएगा, बस प्यार को तुम हथियार बना लो।
जो चाहोगे पाओगे, बस मन में एक विचार बना लो।
हर सपना सच कर जाओगे, बस मन में एक विचार बना लो।

इच्छाओं पर काबू रखना, रस्ते फिर हाथ मिलाते हैं,
दौड़ के हर एक मोड़ हमारी मंज़िल पास में लाते हैं,
एहसास सदा परिवर्तन का हो, हो खुद पर विश्वास सदा,
तुम बोलो जग सुने तुम्हारी, ऐसी इक पहचान बना लो।
जो चाहोगे पाओगे, बस मन में एक विचार बना लो।
हर सपना सच कर जाओगे, बस मन में एक विचार बना लो।

Naman Kumar Jain
@naman9203

आखिर क्यों?विषय शून्यबारिशNews Updates

भावना एहसास

भावना एहसास

भावना एहसास

इन आँख की बारिश को, जो पानी कहता है,
एहसास के मंज़र है, जो झूम के बरसता है।
कोहराम जो दिल में मची रहती है अक्सर
वही फुटकर तो ज्वालामुखी बनता है।

जिस रोज़ ये दिल को एहसास न होगा
याद रख, तू भी कभी पास न होगा
दुआ भी तेरे , कभी काम न आएगी,
तू भी खातिर मेरे, कोई खास न होगा।

नाज़ुक से दिल को, कभी दर्द न पहुंचाना।
वरना आंसुओं की, बरसात नज़र आएगी।
सराबोर हो जाएगी, ये रूह भी तेरी,
ये बवंडर फिर एक दिन, तुझे बहा ले जाएगी।

बंजर सी ज़मीन, बन कर रह जायेगी।
उजड़े चमन में, कली भी न आएगी
तड़प तड़प कर निकल जायेगी रूह
एहसास जब तेरे दिल से निकल जायेगी
दुनिया तुझे सिर्फ, देखते रह जायेगी।
तड़प तड़प कर निकल जायेगी रूह
दुनिया तुझे सिर्फ, देखते रह जायेगी।

©️Nilofar Farooqui Tauseef
Fb, IG-writernilofar

भावना एहसास

ख़तरा,फर्ज़ , News Updates