ग़रीबी

ग़रीबी

ग़रीबी

दुख और सुख के रास्ते है।
कोई न किसी के वास्ते हैं।
राहों में पड़े हैं पत्थर यहाँ,
ठोकर खाकर भी है चलना यहाँ।
जीत उसी की जो कर ले मुट्ठी में ज़माना
ज़िन्दगी एक ग़रीबी सफर है सुहाना।
कभी है हकीकत, कभी है फसाना।

बादल घिर आते हैं
खुशी गम में अपने पहचाने जाते है।
अमीरी और ग़रीबी के सिक्के है
किसी की किस्मत में तारे तो किसी के धक्के है
फिर भी झूम कर दिल गाये ये तराना
ज़िन्दगी एक सफर है सुहाना।
कभी है हकीकत, कभी है फसाना।

©️Nilofar Farooqui Tauseef
Fb, ig-writernilofar

Also Read

दोस्तीकुछ अंशपरिवारNews

गिनती के यार

गिनती के यार

गिनती के यार,

तुम्हारी जिंदगी में ठहर जाए ,
भले वो बहता हुआ दरिया हो,
जिसके दायरे में तकलीफें न हो,
जो तुम्हारी खुशियों का जरिया हो।

जिनपे जान वार सको,
जिनसे प्यार कर सको,
जायज़ जिनका इंतजार हो,
जिनका तुमपे तुमसे
पहले अधिकार हो।

बस अपनी मुट्ठी में समेट लो,
इनके होते इतने ही गम बचेंगे ,
बेगरज़ जो तुम्हारे होंगे,
ऐसे बस गिनती के यार मिलेंगे।

जिनपे पूरा हक़ हो,
जिनका होना गुड लक हो,
जिनकी सीधी हरकत पे भी,
हर बार बेमतलब का शक़ हो।

खुद के आँसू छिपा ले भले,
तेरी शिकन का भी हिसाब रखते हैं,
वो तेरे लिये लड़ ले दुनिया से भी,
जो चेहरे पे
मासूमियत का नकाब रखते हैं ।

हम उम्र भर धागे बांधकर ,
कितनी ख्वाईशों के लिये सजदे करते हैं,
जिन्हे नसीब से मिले हैं उन्हे पूछो,
वो हर दुआ में बस दोस्ती रखते हैं।

-अंजली कश्यप

प्रकृति की सुरक्षा अनावश्यक हैं

मोहजाल में फंसी राधिका

जिंदगी कुछ कमाल कर

Real Time News Updates

जिंदगी कुछ कमाल कर

ऐ जिंदगी कुछ कमाल कर

ऐ जिंदगी कुछ कमाल कर
बची हिम्मत को जुगाड़ कर

हो न जाय यहाँ बेकार सब
तेरी हस्ती की देखभाल कर

ये मुसीबते आना लाज़मी है
तेरे पथ के हर एक पड़ाव पर

यूँ न बैठ वक्त पर हाथ धरे
जरा ग़ोर कर तेरे हाल पर

ये दरिया है दलदल से भरा
ज़रा जाना इस पर सम्भाल कर

लक्ष्य मुक्कमल हो तेरा
अब कुछ ऐसा चमत्कार कर

मेहनत की इस फ़ेहरिश्त में
तेरा नाम हो पहले स्थान पर

BY Vishvajeet singh Rathore

मोहजाल में फंसी राधिका

बेवज़ह

Real Time News Updates